ब्रज की दुनिया

ब्रज की दुनिया में आपका स्वागत है. आइये हम सब मिलकर इस दुनिया को और अच्छा बनाने का प्रयास करें.

678 Posts

1380 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1147 postid : 1344832

पीछा करो

  • SocialTwist Tell-a-Friend

women1

मित्रों, आपने कभी किसी का पीछा किया है? हमने तो नहीं किया. लड़की और बस के पीछु तो आपुन कभी भागा इच नहीं. हाँ कभी किसी को गलतफहमी हो सकती है कि हम उसके पीछु पड़े हुए हैं. होता यह है कि कई बार हाजीपुर में हम सुभाष चौक पर बाइक से होते हैं और कोई लड़की स्कूटी से हमारे आगे होती है. फिर हम सिनेमा रोड में होते है, तो वो भी वहीं होती है. फिर हम किसी काम से यादव चौक पर होते हैं और वो भी वहीं पर होती है. मगर ऐसा हम जानबूझकर नहीं करते या हर जगह जानबूझकर नहीं होते, बल्कि संयोगवश होते हैं.
मित्रों, ऐसा किसी के साथ भी हो सकता है. अमीन सयानी जी ने एक बार एक बड़ा ही दिलचस्प वाकया सुनाया था रेडियो पर. लता दीदी ने उस समय फिल्मों में गाना शुरू ही किया था. वो रोज घर से निकलतीं. तांगा पकडतीं. फिर स्टेशन से लोकल ट्रेन पकडतीं. फिर ट्रेन से उतरकर तांगा पकडतीं और उतरने के बाद पैदल चलकर बॉम्बे टॉकीज जातीं.

एक दिन ऐसा हुआ कि घुंघराले बालों वाला एक लड़का उनके घर के पास से उसी तांगे में बैठा जिसमें लता दी बैठीं. फिर वही ट्रेन और फिर से वही तांगा. यहाँ तक कि पैदल वो उनके पीछे-पीछे बॉम्बे टॉकीज भी आने लगा. लता दी डर गईं और लगभग दौड़ते हुए बॉम्बे टाकीज के मालिक हिमांशु रॉय और अभिनेता अशोक कुमार के पास पहुँच गईं. फिर उनको बताया कि वो लड़का जो अभी गेट से घुस रहा है, उनका पीछा कर रहा है.

लड़के पर नजर जाते ही सभी हंस पड़े. दादामुनि ने कहा कि ये उनका छोटा भाई किशोर है, जो कल ही मुंबई आया है. संयोग से ये भी आज वहीं से बॉम्बे टॉकीज आ रहा है, जहाँ से तुम आ रही हो. कहना न होगा कि बाद में लता और किशोर पक्के भाई-बहन बन गए.
मित्रों, अब अगर लता दी घटना का राजनीतिकरण करतीं और हमारी मीडिया जो कुछ दिनों से टीआरपी के लिए महिलाओं की चोटी कटवाती फिर रही होती, तो मामले को लपक लेती कि सुपरस्टार दादामुनि के भाई ने एक गरीब लड़की का पीछा किया और उसका जीना मुहाल कर दिया. किशोर कुमार की गलती बस इतनी होती कि वे उस रास्ते से आते और अशोक कुमार के भाई होते. बाकी तो उनको भी पता नहीं होता कि वे किसी का पीछा कर रहे हैं.
मित्रों, चंडीगढ़ पीछा करो कांड में एक अच्छी बात यह हुई है कि घटना का वीडियो फुटेज मिल गया है, जिससे बहुत जल्द दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. पता चल जाएगा कि भाजपा नेता का बेटा सड़क पर चुपचाप जा रहा था या छेड़खानी भी कर रहा था. तब तक आप लोगों को राम-राम इस चेतावनी के साथ कि सड़क पर सचेत रहें. सावधान रहें कि कोई लड़की आपके आगे-आगे तो नहीं चल रही है. अगर आप भाजपा नेता के बेटे हैं तो बेहतर होगा कि आप सड़क पर निकलें ही नहीं.



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran